‘द कश्मीर फाइल्स’ की स्क्रीनिंग को पूरी तरह से स्टैंडिंग ओवेशन मिला है

भारतीय इतिहास की सबसे महत्वपूर्ण, प्रासंगिक और रिपोर्ट न की गई कहानी में से एक, विवेक की अगली ‘द कश्मीर फाइल्स’ को यूएसए के कई प्रतिष्ठित संस्थानों और संगठनों द्वारा आमंत्रित किया गया था।

मुम्बई: बहुप्रतीक्षित फिल्म ‘द कश्मीर फाइल्स’ के निर्माताओं को हाल ही में नई दिल्ली में आयोजित एक्सोडस ड्रामा की स्क्रीनिंग के दौरान एक बड़ा आश्चर्य देखने को मिला।

कश्मीरी पंडितों की दुर्दशा को उजागर करनेवाली यह कहानी (जिसे बताने की जरूरत थी) बनाने के लिए फिल्म निर्माता विवेक रंजन अग्निहोत्री की दृष्टि की सराहना करते हुए, खचाखच भरे सिनेमा हॉल में इस सिनेमाई मास्टरपीस के लिए तालियों के साथ स्टैंडिंग ओवेशन दिया गया। स्क्रीनिंग में तमाम दर्शकों की उन्हीं भावनाओं को प्रतिध्वनित किया, जो मुख्य कलाकारों द्वारा दिखाये गये विचारों और शानदार कथा के प्रदर्शन की प्रशंसा करने से नहीं रोक सके।https://www.youtube.com/embed/A179apttY58?feature=oembed

पिछले साल के अंत में, विवेक और उनकी पत्नी-अभिनेत्री पल्लवी जोशी ने विभिन्न शहरों में अपनी बहुप्रतीक्षित फिल्म ‘द कश्मीर फाइल्स’ की विशेष स्क्रीनिंग के लिये एक महीने के लंबे शेड्यूल के साथ यूएसए का दौरा किया।

भारतीय इतिहास की सबसे महत्वपूर्ण, प्रासंगिक और रिपोर्ट न की गई कहानी में से एक, विवेक की अगली ‘द कश्मीर फाइल्स’ को यूएसए के कई प्रतिष्ठित संस्थानों और संगठनों द्वारा आमंत्रित किया गया था।

समीक्षकों द्वारा प्रशंसित फिल्म निर्माता, पल्लवी जोशी के साथ ‘द कश्मीर फाइल्स’ को फिल्म स्क्रीनिंग के दौरान मिल रही विनम्र और हार्दिक प्रतिक्रिया के बारे में उत्साहित हैं।

विवेक के नेतृत्व में पत्नी पल्लवी जोशी और टीम के साथ, फतवे के खतरे में होने के बावजूद, पिछले तीन वर्षों में व्यापक शोध किया और इस कार्य को अंजाम दिया। उनकी टीम ने प्रत्येक कहानी का अध्ययन किया और अंत में एक फीचर फिल्म बनाने के लिए निकल पड़े। विवेक ने कोविड -19 की चुनौती के बावजुद, अपने मिशन पर भरोसा किया, शोध पूरा किया और एक आकर्षक कहानी और पटकथा लिखी, जो बिना किसी गाने के दो घंटे, पचास मिनट में स्क्रीन पर एक एपिक फिल्म में बदल गई।

अपने शीर्षक पर खरी उतरते हुए, ‘द कश्मीर फाइल्स’ एक सच्ची कहानी है, जो कश्मीरी पंडित समुदाय के कश्मीर नरसंहार की पहली पीढ़ी के पीड़ितों के वीडियो साक्षात्कारों पर आधारित है। यह कश्मीरी पंडितों के दर्द, पीड़ा, संघर्ष और आघात का दिल दहला देनेवाला कथन है और लोकतंत्र, धर्म, राजनीति और मानवता के बारे में आंखें खोलने वाले तथ्यों पर सवाल उठाता है।

विवेक रंजन अग्निहोत्री द्वारा लिखित और निर्देशित, इस एक्सोडस नाट्य में मिथुन चक्रवर्ती, अनुपम खेर, दर्शन कुमार, पल्लवी जोशी और चिन्मय मांडलेकर जैसे कलाकार मुख्य भूमिका मैं है।

ज़ी स्टूडियोज और तेज नारायण अगरवाल, अभिषेक अगरवाल, पल्लवी जोशी और विवेक रंजन अग्निहोत्री द्वारा निर्मित, विवेक अग्निहोत्री द्वारा लिखित और निर्देशित ‘द कश्मीर फाइल्स’ 11 मार्च, 2022 को सिनेमाघरों में रिलीज होनेवाली है।

Add a Comment

Your email address will not be published.